जगदलपुर के पास ग्राम डिमरापाल में है नवनिर्मित अस्पताल भवन;
500 बिस्तरों वाले नवनिर्मित अस्पताल भवन का लोकार्पण

राष्ट्रपति के हाथों बस्तर इलाके के आम लोगों को मिली बड़ी सौगात

राष्ट्रपति के हाथों बस्तर इलाके के आम लोगों को मिली बड़ी सौगात

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंदः एक बदलता हुआ बस्तर देखने को मिला, जहां आज विश्वविद्यालय, इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेज है, अच्छी सड़कें है, इंटरनेट और मोबाइल कनेक्टिविटि है और ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क है

जगदलपुर, 26 जुलाई 2018। छत्तीसगढ़ के बस्तर में 02 दिवसीय दौरे पर आये राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने दौरे के दूसरे दिन बस्तर इलाके के आम लोगों को बड़ी सौगात दी है।  गुरुवार को राष्ट्रपति  रामनाथ कोविंद ने  देश की प्रथम महिला सविता कोविंद और मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की मौजूदगी में  छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के मुख्यालय जगदलपुर के पास ग्राम डिमरापाल में स्वर्गीय श्री बलिराम कश्यप  स्मृति शासकीय मेडिकल कॉलेज के नवनिर्मित अस्पताल भवन का लोकार्पण किया।  लगभग 170 करोड़ रूपए की लागत से निर्मित पांच सौ बिस्तरों वाले विशाल अस्पताल भवन का लोकार्पण करने के बाद जनसभा को सम्बोधित करते हुए राष्ट्रपति  रामनाथ कोविंद ने कहा कि यह अस्पताल भवन आधुनिक चिकित्सा विज्ञान का एक प्रमुख केन्द्र बनेगा। न केवल छत्तीसगढ़ राज्य के लिए बल्कि पूरे देश के लिए चिकित्सा शिक्षा और सेवा का एक उच्चतर मानक स्थापित करेगा। हजारों लोगों की जनसभा को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि बस्तर और आसपास के क्षेत्रों से मैं भलीभांति परिचित हूं। लगभग  पन्द्रह-सोलह वर्ष पहले मैं वरिष्ठ आदिवासी नेता श्री बलिराम कश्यप के आमंत्रण पर बस्तर आया था। तब और आज के बस्तर में जमीन - आसमान का अंतर आ गया है।  आज और कल के दो दिन के प्रवास के दौरान मुझे एक बदलता हुआ बस्तर देखने को मिला, जहां आज विश्वविद्यालय, इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेज है, अच्छी सड़कें है, इंटरनेट और मोबाइल कनेक्टिविटि है और ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क है। साथ ही अब यहां रेल और नियमित हवाई सेवा भी उपलब्ध हो गई है। इन उपलब्धियों के पीछे जो दृष्टि, संकल्प और कर्मठता है तथा आदिवासी भाई-बहनों के जीवन में बदलाव लाने के लिए जो प्रतिबद्धता है, वह अनुकरणीय है।

              

500 बिस्तरों वाले अस्पताल भवन से अब बस्तर संभाग में मिलेगी बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें

500 बिस्तरों वाले अस्पताल भवन से अब बस्तर संभाग में मिलेगी बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें

CM डॉ रमन सिंहः अगर कहीं कॉलेज खुलता है, तो वहां का स्कूल बंद नहीं हो जाता

                      राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जनसभा में प्रदेशवासियों को राष्ट्रपति भवन आने का भी न्यौता दिया। उन्होंने जनता से कहा- राष्ट्रपति भवन सिर्फ राष्ट्रपति का निवास या कार्यालय भर नहीं है, बल्कि वह  हमारे लोकतंत्र का प्रतीक और देश की धरोहर है। इसलिए राष्ट्रपति भवन पर प्रत्येक भारतीय नागरिक का अधिकार है। वह आप सबका भी भवन है।  उन्होंने आगे कहा कि मैं चाहूंगा कि आप नागरिक दिल्ली आएं तो राष्ट्रपति भवन भी जरूर पधारें। 

                       मुख्यमंत्री ने मेडिकल कॉलेज के नये अस्पताल भवन के लोकार्पण का उल्लेख करते हुए कहा कि कुछ लोग यह सवाल कर रहे हैं कि पुराने महारानी अस्पताल का क्या होगा ? मुख्यमंत्री ने इस भ्रांति का निराकरण करते हुए कहा कि अगर कहीं कॉलेज खुलता है, तो वहां का स्कूल बंद नहीं हो जाता। इस नये अस्पताल भवन में मरीजों को आधुनिक और बेहतरीन चिकित्सा सुविधा मिलेगी। मुख्यमंत्री ने वहां के डॉक्टरों से कहा कि वे बस्तरवासियों की सेवा के लिए हमेशा तत्पर रहे। इस अस्पताल के सभी डॉक्टर और कर्मचारी बस्तर संभाग के 40 लाख लोगों की आशा की किरण है। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की आयुष्मान भारत योजना को देश के करोड़ों गरीबों के लिए सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना बताया और कहा कि इसके तहत गंभीर बीमारियों से पीड़ित मरीजों को पांच लाख रूपए तक सहायता मिलेगी।

             गौरतलब है कि,  05 सौ बिस्तरों वाले इस  नवनिर्मित अस्पताल भवन का इलाके के लोगों को लंबे समय से इंतजार था। इसके खुलने के साथ ही बस्तार संभाग के लोगों को अब इलाज के लिए न ही लंबी दूरी तय कर बड़े शहर जाने से बचत होगी बल्कि उन्हें बेहतर और सस्ती स्वास्थ्य सुविधाये इलाके में मौजूद इस नवनिर्मित अस्पताल भवन के माध्यम से मिल सकेगी। इसके साथ ही बस्तर संभाग में नक्सली मोर्चे पर लड़ रहे हजारों जवानों को भी तत्काल स्वास्थ्य उपचार बस्तर में ही मिल सकेगा। 


You may also like

Facebook Conversations