मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर श्रमिकों के पंजीयन के लिए श्रम विभाग द्वारा राजधानी रायपुर के गांधी मैदान स्थित चावड़ी में २ जनवरी बुधवार से विशेष शिविर लगाया जाएगा।
श्रमिकों के लिए शेड और शौचालय निर्माण के साथ ही शुद्ध पेयजल की व्यवस्था के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए थे।
सीएम भूपेश बघेल ने आज नववर्ष की शुरूआत यहां चावड़ी में मजदूरों को मिठाई खिलाकर की थी

रायपुर, 02  जनवरी ! मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के निर्देश पर श्रमिकों के पंजीयन के लिए श्रम विभाग द्वारा राजधानी रायपुर के गांधी मैदान स्थित चावड़ी में २ जनवरी बुधवार से विशेष शिविर लगाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि सीएम  भूपेश बघेल ने आज नववर्ष की शुरूआत यहां चावड़ी में मजदूरों को मिठाई खिलाकर की थी। उन्होंने इस अवसर पर श्रमिकों के लिए शेड और शौचालय निर्माण के साथ ही शुद्ध पेयजल की व्यवस्था के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए थे। उन्होंने  अधिकारियों को विशेष शिविर लगाकर श्रमिकों का पंजीयन करने के निर्देश भी दिए थे, जिससे मजदूर श्रम विभाग की योजनाओं का लाभ उठा सकें।

    सीएम  के निर्देश पर त्वरित अमल करते हुए श्रम विभाग द्वारा 2 जनवरी से सुबह 8 बजे से 11 बजे तक गांधी मैदान स्थित केन्द्र में पंजीयन के लिए विशेष शिविर लगाया जाएगा। सहायक श्रमायुक्त  शोयब कॉजी ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देशन पर श्रमिकों के पंजीयन के लिए 2 जनवरी से सुबह 8 बजे से 11 बजे तक गांधी मैदान स्थित केन्द्र में विशेष शिविर लगाया जाएगा। इसके साथ ही श्रमिक कार्यालयीन समय में कचहरी चौक के माहुरकर गली स्थित सहायक श्रम आयुक्त कार्यालय में भी अपना पंजीयन करा सकते है। उन्होंने बताया कि पंजीयन के लिए निर्माण श्रमिकों को दो पासपोर्ट साईज फोटो, आधार कार्ड या मतदाता परिचय पत्र, राशन कार्ड, बैंक पासबुक की छायाप्रति और नियोजन का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होता है इसी तरह अन्य प्रवर्ग के असंगठित श्रमिकों को पंजीयन के लिए दो पासपोर्ट साईज फोटो, आधार कार्ड या मतदाता परिचय पत्र, राशन कार्ड, बैंक पासबुक की छायाप्रति और आय प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होता है। सहायक श्रम आयुक्त ने बताया कि विभाग की श्रम अन्न सहायता योजना के तहत पंजीकृत श्रमिकों को गांधी मैदान, तेलीबंाधा और उरला में संचालित भोजन वितरण केन्द्र से 5 रूपए में भरपेट खाना मिलता है। श्रमिक इन केन्द्रों से अपने टिफिन में खाना भी पैक कराकर ले जा सकते है।  


You may also like

Facebook Conversations