मुंगेली जिला स्थित छोटे से गांव घोरपुरा गांव के किसान पुत्र अपने दादा के सपने को पूरा करने के लिए हेलीकॉप्टर से बारात ले जाने वाला है!
हेलीकॉप्टर से ही अपनी दुल्हनिया को लेकर वापस लौटेगा!
पोते अंकुश सिंह हेलीकॉप्टर से बारात जाए और हेलीकॉप्टर से ही दुल्हन लेकर आए! तभी मैं अपने पोते के में बारात जाऊँगा !

मुंगेली 20 जनवरी !  छत्तीसगढ़ के के मुंगेली जिला स्थित छोटे से गांव घोरपुरा गांव के किसान पुत्र अपने दादा के सपने को पूरा करने के लिए हेलीकॉप्टर से बारात ले जाने वाला है और हेलीकॉप्टर से ही अपनी दुल्हनिया को लेकर वापस लौटेगा!

यह शाही शादी नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ के एक किसान परिवार की शादी है! किसान पुत्र और मालगुजार धर्मराज सिंह का यह सपना था कि उसके इकलौते पोते अंकुश सिंह हेलीकॉप्टर से बारात जाए और हेलीकॉप्टर से ही दुल्हन लेकर आए! तभी मैं अपने पोते के में  बारात जाऊँगा ! 

पोता अंकुश सिंह जो कि दूल्हा बनने जा रहा है! उन्होंने पूरी तैयारी कर ली है इसके लिए उसने डक्कन कंपनी से किराए पर हेलीकॉप्टर लिया है! जिससे अपने दादा धर्मराज सिंह परिवार के अन्य सदस्यों के साथ 8 सीटर इस हेलीकॉप्टर में सवार होकर 22 जनवरी को करीब 3 बजे मुंगेली से शहडोल बरात जाएंगे!

शहडोल में अरुण सिंह की पुत्री आदर्शिता सिंह के साथ विवाह कर विवाह के बंधन में बंधने जा रहा है. विवाह के पश्चात 23 जनवरी को दूल्हा अंकुश सिंह अपनी दुल्हन आदर्शिता सिंह को हेलीकॉप्टर से लेकर मुंगेली पहुंचेंगा!

दूल्हा अंकुश सिंह ने  बताया कि हेलीकाप्टर के उड़ान भरने व उतरने के लिए उसने 18 जनवरी को जिला प्रशासन अनुमति मांगी थी जिस पर अनुमति भी मिल गई है! इस अनोखी बारात और विवाह को लेकर लोगों में काफी चर्चा में है!


You may also like

Facebook Conversations