छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिला के मनकेली गांव को नक्सलियों द्वारा 200 से अधिक स्पाइक होल से किलेबंदी कर रखी थी वहां दो स्मारक भी बनाए थे। सीआरपीएफ ने बुधवार को स्मारकों को ढहा दिया, वहीं स्पाइक होल से सरिया और बांस की खपच्चियां निकाल इलाके को सुरक्षित किया।

बीजापुर 16  फरवरी । छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिला के  मनकेली गांव को  नक्सलियों द्वारा  200 से अधिक स्पाइक होल से किलेबंदी कर रखी थी वहां  दो स्मारक भी बनाए थे। सीआरपीएफ  ने बुधवार को स्मारकों को ढहा दिया, वहीं स्पाइक होल से सरिया और बांस की खपच्चियां निकाल इलाके को सुरक्षित किया।

सीओ सुधीर कुमार ने बताया कि बुधवार को काकेकोरमा, चिलनार, कोकरा और मनकेली में द्वितीय कमान अधिकारी हरविंदर सिंह की अगुवाई में सहायक कमांडेंट डॉ मनीर खान समेत जवान गए थे। मनकेली में एक गड्ढे में गाय मृत अवस्था में दिखी। दरअसल वह स्पाइक होल में गिरी थी और इससे उसकी मौत हो गई थी।

मनकेली, चिलनार और कोकरा गांवों को नक्सलियों ने 200 से अधिक स्पाइक होल से घेर रखा था। सबसे ज्यादा होल मनकेली गांव के चारों ओर थे। जमीन के चार से पांच फुट नीचे नुकीले सरिए थे। बांस की खपच्चियां भी रखी गईं थीं। इनके ऊपर सूखी पत्तियां डाल दी गई थी जो जवानों को फ़साने   के लिए थीं।


You may also like

Facebook Conversations