विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष व भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि को लेकर छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने भूपेश सरकार पर किसान सम्मान निधि को लेकर किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाया है। इस मामले में राज्य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कौशिक ने गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार किसानों को गुमराह कर रही है।

बिलासपुर । विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष व भाजपा  के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि को लेकर  छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने भूपेश सरकार पर   किसान सम्मान निधि को लेकर किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाया है।  इस मामले में राज्य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कौशिक ने गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने  कहा कि सरकार किसानों को गुमराह कर रही है।

बिलासपुर में दशहरा के एक कार्यक्रम में पहुंचे धरमलाल कौशिक ने मीडिया से चर्चा की. किसान सम्मान निधि को लेकर नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि राज्य सरकार किसान सम्मान निधि की कोई भी जानकारी पोर्टल पर नहीं दे रही है.यही कारण है कि किसानों को समय पर राशि नहीं मिल पा रही है. केन्द्र सरकार जब किसान सम्मान निधि जारी कर रही थी तो कांग्रेसी उस समय मजाक उड़ा रहे थे. अब सरकार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की मांग किस मुंह से कर रहे है. किसान सम्मान निधि के नाम पर कांग्रेस राजनीति कर रही है।

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने आरक्षण को लेकर राज्य सरकार की नियत पर सवाल खड़ा किया है। कौशक ने कहा कि प्रदेश में 82 प्रतिशत आरक्षण को लेकर पहले से ही सरकार शक के दायरे में थी और हुआ भी वही. आरक्षण के मामले में सुनवाई के दिन महाधिवक्ता गायब थे। इससे साफ जाहिर है कि आरक्षण देने की सरकार की कोई मंशा नहीं थी। इसलिए ही मजबूती से आरक्षण मामले में सरकार की ओर से पक्ष नहीं रखा गया. इसका नुकसान ओबीसी वर्ग को हुआ है. बता दें कि हाई कोर्ट ने प्रदेश में ओबीसी आरक्षण को 14 से बढ़ा 27 फीसदी किए जाने पर रोक लगा दी है. इसे सरकार के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है।


You may also like

Facebook Conversations