हाईकोर्ट ने स्वयं के खर्चे से डीएड ,बीएड करने वाले शिक्षकों को दो वेतन वृद्धि देने स्कूल शिक्षा एवं सचिव पंचायत को आदेश दिया है। चार महीनों के अंदर प्रकरण का निराकरण करने का निर्देश दिया गया है ।

बिलासपुर । हाईकोर्ट ने  स्वयं के खर्चे से डीएड ,बीएड करने वाले शिक्षकों को दो वेतन वृद्धि देने स्कूल शिक्षा एवं सचिव पंचायत को  आदेश दिया है। चार महीनों के अंदर प्रकरण का निराकरण करने का निर्देश दिया गया है ।बलौदाबाजार भाटापारा के अंतर्गत विभिन्न ग्रामों के रहने वाले मोहन लाल बंजारे,पार्वती वर्मा,युधिष्ठर कुमार नायक ,फिरमा केरकेट्टा ,श्रीमती सुचेता तिवारी,कुमार प्रसाद साहू ,राजकुमार सोनवानी,दमन चंद्र कोसले ,किरण टिकरिहा ,आदि ने हाई कोर्ट में इस आशय की याचिका पेश की थी कि याचिककर्तागण ने सेवा में आने के पहले स्वयं के व्यय में बीएड ,डीएड परीक्षा उत्तीर्ण कर ली थी । 

शासन के द्वारा जारी आदेश पत्र दिनांक 28-10-2014 के अनुसार ऐसे शिक्षकों को जो नियुक्ति तिथि के पूर्व स्वयं के व्यय पर बीएड ,की परीक्षा उत्तीर्ण किये हो उन्हें दो अग्रिम वेतन वृद्धि नियुक्त तिथि से प्रदान किया जाना है।सेवा में आने के पूर्व ही स्वयं के व्यय पर कर लिए थे ।इस प्रकार उन्होंने नियमानुसार नियुक्त तिथि से बीएड डीएड उत्तीर्ण करने के कारण दो अग्रिम वेतन वृद्धि पाने के अधिकारी है।परन्तु उनको अब तक उक्तानुसार वेतन वृद्धि का लाभ नहीं दिया गया।

इस याचिका पर हाई कोर्ट के जज पी सेम कोशी द्वारा सुनवाई कर आदेश 4-10- 2019  को पारित कर छत्तीसगढ़ स्कूल शिक्षा एवं सचिव ,आदिम जाति तथा अनु.जाति विकास विभाग छत्तीसगढ़ शासन रायपुर को निर्देशित किया है कि बीएड ,डीएड स्वयं के खर्चे किये जाने पर वेतन वृद्धि का लाभ दिए जाने सबंधी याचिककर्तागण के अभ्यावदेन  का परिक्षण कर चार माह के अंदर निराकरण के निर्देश जारी कर प्रकरण को निराकृत किया है।


You may also like

Facebook Conversations